अमरीका की सुरक्षा हिलेरी के हाथों में

3+x+2+clinton+kaine+convention+finale

अमरीका में राष्ट्रपति चुनाव के लिए अभियान ज़ोर पकड़ रहा है और दोनों मुख्य प्रत्याशियों डोनाल्ड ट्रंप तथा हिलेरी क्लिंटन ने अभियान में सबकुछ झोंक दिया है। ऐसे में स्तभंकार ट्रूडी रूबिन का मानना है कि अमरीका की विदेश नीति तथा राष्ट्रीय सुरक्षा की चिंता करने वाले किसी भी व्यक्ति के पास हिलेरी क्लिंटन को वोट देने के अलावा कोई विकल्प नहीं है।

रूबिन ने फिलीडॉटकॉम पर अपने लेख में लिखा है कि इसकी सबसे ज़रूरी वजह तो यह है कि देश के परमाणु हथियारों का नियंत्रण एक ऐसे व्यक्ति के हाथों में जाने से रोकना है जिसे न तो पूरी जानकारी है और जो क्रोधी है और अस्थिर भी।

दूसरा कारण यह है कि हिलेरी क्लिंटन के पास उचित कौशल भी है जिसकी इस अस्थिर समय में ज़रूरत है।

उनके अनुसार राष्ट्रपति पद के उम्मीदवार डोनाल्ड ट्रंप बार बार यह दर्शा चुके हैं कि उनके पास अमरीका का सेनाध्यक्ष यानी कमांडर इन चीफ बनने की मनोदशा नहीं है। रूबिन के अनुसार ट्रंप बार बार उल जुलूल बोलते रहते हैं जैसा कि उन्होंने रूस से कहा कि वह हिलेरी क्लिंटर के ईमेल हैक कर उन्हें सार्वजनिक करे।

ट्रंप के अनेक समर्थकों का मानना है कि वे इस मामले में अपनी कमजोरी को विदेश नीति के जानकार महारथियों की फौज से ढांप सकते हैं। लेकिन ट्रंप ऐसा करने में विफल रहे हैं। ट्रंप खुद की तुलना रोनाल्ड रेगन से करते हैं जबकि रेगन जब राष्ट्रपति का चुनाव लड़ रहे थे तो उनके पास एक स्पष्ट विचारधारा थी और उनके पास अच्छे विदेश नीति सलाहकार थे। ट्रंप के पास तो इसमें से कुछ भी नहीं है।

 ट्रूडी रूबिन का पूरा आलेख यहाँ पढ़ें।

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटरपर फॉलो करे! हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App

Source - ट्रूडी रूबिन, फिलीडॉटकॉम