ताजा समाचार

गंगा के बढ़ते जलस्तर से बाढ़ पीड़ितों की मुश्किलें बढ़ीं

गंगा का जलस्तर मंगलवार की शाम तक बढ़ना बंद होने के बाद बुधवार से फिर से बढ़ने लगा है। इस वजह से गंगा और वरुणा नदी के तटवर्ती इलाकों में एक बार फिर हड़कंप मच गया। उफनती गंगा वाराणसी में वर्ष 1978 की बाढ़ का उच्चतम रिकॉर्ड  तोड़ने को उतावली जान पड़ती है। आज शाम तक गंगा के बढ़ते जलस्तर से 2013 का रिकॉर्ड टूट सकता है। जिसके प्रभाव से गंगा वरुणा नदी के तटवर्ती इलाकों में भी लोगों के चेहरे पर भय दिखने लगा है। प्रभावित लोग अपने सामान को समेटने में जुटे हैं। इलाहाबाद से बलिया तक सभी स्थानों पर गंगा का जलस्तर खतरे का निशान पार करने बाद भी बढ़ता जा रहा है । प्राप्त जानकारी के अनुसार झांसी के पास से एक बाँध से आज 5 लाख क्यूसेक मीटर पानी छोड़े जाने की की खबर के साथ ही सम्बंधित जिलों के अधिकारियों की धड़कनें बढ़ी हुई हैं। आगामी 2 से 3 दिनों में उस पानी के पूर्वांचल तक पहुँचने के बाद पानी का स्तर क्या होगा, यह एक यक्ष प्रश्न बना हुआ है। बाढ़ पूर्वानुमान केंद्र की रिपोर्ट के मुताबिक इलाहाबाद, फाफामऊ, सीतामढ़ी,  मिर्जापुर, वाराणसी गाजीपुर और बलिया में पानी का बढ़ाव जारी है। जन जीवन अस्त-व्यस्त हो गया है। पानी की चपेट में आने से सैकड़ों एकड़ फसल जलमग्न हो चुकी है। कई क्षेत्रों का सम्पर्क टूट चुका है। बाढ़ पीड़ितों को राहत सामग्री न पहुँच पाने की शिकायतें भी बढ़ती जा रही हैं। राहत और बचाव दल के साथ ही NDRF की कई टीमें अलग-अलग इलाको में राहत पहुँचाने में रात-दिन लगी हुई हैं।

b37313fe-ad15-4184-8b1c-d5928e6c2eb2

वाराणसी शहर में घुसा पानी बीएचयू ट्रॉमा सेंटर के बाहार का दृश्य

bcd4f457-b18d-49b5-999e-e955b0ba4067

घर में घुसा 5 फुट का अजगर NDRF ने पकड़ा

fadb8424-1826-4fc7-a82d-49157af155d6

a44eadd7-f040-4c54-af56-ac81389b7578

65305fcf-478d-444d-9312-446fcd507527

 

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटरपर फॉलो करे! हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App

Source - सुशांत मुखर्जी, हिंदी एडिटप्लैटर.कॉम