थेरेसा ने माना, आग हादसे में लोगों को पर्याप्त मदद नहीं मिली

लंदन की बहुमंजिला इमारत ‘ग्रेनफेल टॉवर’ में लगी भीषण आग के बाद 58 लोग लापता हैं। उनकी मौत का अंदेशा भी जताया जा रहा है। इस बीच ब्रिटेन की प्रधानमंत्री थेरेसा मे ने स्वीकार किया कि हादसे के ‘शुरुआती घंटों’ में पीड़ितों को ‘पर्याप्त’ मदद नहीं मिली। मे ने अपने आधिकारिक आवास डाउनिंग स्ट्रीट में हादसे के पीड़ितों के साथ मुलाकात के बाद एक बयान में कहा, “इस भीषण हादसे के शुरुआती घंटों में लोगों को पर्याप्त मदद और बुनियादी जानकारी नहीं मिली।”

ब्रिटेन चुनावसमाचार एजेंसी सिन्हुआ के मुताबिक, मे ने कहा, “मैने लोगों की परेशानियां सुनी हैं और पीड़ितों के रिश्तेदारों और हादसे में बचे लोगों की मदद के लिए तत्काल कार्रवाई का आदेश दिया है।”लंदन पुलिस के अनुसार, ग्रेनफेल टॉवर में जिस रात आग लगी, उस समय इमारत में मौजूद लोगों में से 58 लोग लापता हैं। माना जा रहा है कि उनकी मौत हो चुकी है।

कमांडर स्टुआर्ट कंडी के अनुसार, इनमें वे 30 लोग भी शामिल हैं, जिनकी मौत की पुष्टि हो चुकी है। उन्होंने कहा, “58 की इस संख्या में बदलाव हो सकता है। मैं उम्मीद करता हूं कि ऐसा न हो, लेकिन इसमें वृद्धि हो सकती है।”बीबीसी की एक रिपोर्ट के अनुसार मृतकों की संख्या करीब 70 हो सकती है।

पश्चिमी लंदन में स्थित आवासीय इमारत ग्रेनफेल टॉवर में बुधवार को आग लग गई थी, जिसमें कई लोगों के फंसे होने की आशंका जताई गई।

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटरपर फॉलो करे! हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App

Source - एडिट प्लैटर