यूपी विधानसभा में मिला पदार्थ PETN नहीं है!

यूपी विधानसभा में मिला पाउडर PETN विस्फोटक था या नहीं…? अब इसपर स्थिति काफी हद तक साफ होने लगी है। राष्ट्रीय जांच एजेंसी अब इस बात को लेकर काफी हद तक आश्वस्त हो गई है कि विधानसभा से मिला पाउडर PETN विस्फोटक नहीं था, बल्कि यह किसी की शरारत थी। जांच एजेंसी के फॉरेंसिक एक्सपर्ट्स ने इस बात की पुष्टि कर दी है कि सदन के अंदर मिला पाउडर PETN नहीं था। फिलहाल हैदराबाद CFSL से फाइनल रिपोर्ट का इंतजार किया जा रहा है।

इधर सूत्रों का कहना है कि सीसीटीवी से भी इस मामले में कोई सुराग नहीं मिला है। सूत्रों ने बताया कि एक बार हैदराबाद CFSL ने फाइनल रिपोर्ट आ जाए, उसके बाद जांच को बंद कर दिया जाएगा और गृह मंत्रालय को रिपोर्ट सौंप दी जाएगी।हालांकि NIA ने इस सिलसिले में समाजवादी पार्टी के दो विधायकों मनोज कुमार पांडे और अनिल कुमार दोहरे से पूछताछ भी की, लेकिन जांच में ऐसा कोई तथ्य या जानकारी सामने नहीं आई जिसके आधार पर इसमें किसी आतंकी साजिश की आशंका को सही माना जा सके।

इस पाउडर को लेकर यह भी कहा जा रहा है कि कुछ दिनों पहले सदन की साफ-सफाई एवं रंगाई पुताई का काम भी हुआ था। हो सकता है सदन के अंदर से मिला पदार्थ पुताई में काम आने वाला कोई पाउडर हो, जो यहां छूट गया था।  आपको बता दें कि 12 जुलाई को सदन के अंदर से यह पदार्थ मिला था। जिसके बाद सीएम योगी ने इस मामले की जांच एनआईए को दी थी

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटरपर फॉलो करे! हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App

Source - एडिट प्लैटर