हमारे पास खोने को कुछ नहीं था : सरफराज

आईसीसी चैम्पियंस ट्रॉफी के फाइनल में रविवार को भारत को मात देने के बाद पाकिस्तान के कप्तान सरफराज अहमद ने कहा कि उनकी टीम उस तरह से खेली, जिसके पास खोने को कुछ नहीं था। कप्तान ने इस जीत का श्रेय युवा खिलाड़ियों को दिया है। पाकिस्तान ने फाइनल में पहले बल्लेबाजी करते हुए भारत के सामने 339 रनों का लक्ष्य रखा, जिसके सामने भारतीय टीम 30.3 ओवरों में 158 रनो पर ढेर हो गई और 180 रनों से अपना खिताब गंवा बैठी।

मैच के बाद सरफराज ने कहा, “यह युवा टीम है। जीता का श्रेय मेरे खिलाड़ियों को जाता है। यह टूर्नामेंट टीम के लिए प्रेरणादयाक साबित हुआ है। हम उस तरह खेले जैसे हमारे पास खोने कुछ नहीं था। अब हम विजेता हैं। मेरे और मेरे देश के लिए यह गर्व का क्षण है। हमें समर्थन देने के लिए देश का शुक्रिया।”

सरफराज ने 114 रनों की शानदार पारी खेलने वाले युवा सलामी बल्लेबाज फखर जमान की तरीफ करते हुए कहा, “वह काफी प्रभावशाली खिलाड़ी हैं। अपने पहले आईसीसी टूर्नामेंट में वह चैम्पियन की तरह खेले। वह पाकिस्तान के लिए महान खिलाड़ी बन सकते हैं।”सरफराज ने जीत में अपने गेंदबाजों की अहम भूमिका बताई है।

उन्होंने कहा, “सारा श्रेय मेरे गेंदबाजों को जाता है। मोहम्मद आमिर, हसन अली, शादाब खान, जुनैद खान, मोहम्मद हफीज सभी ने अच्छी गेंदबाजी की।”सरफराज ने टूर्नामेंट मे अपने सफर के बारे में कहा, “भारत के खिलाफ पहले मैच में हारने के बाद मैंने अपनी टीम से कहा था कि टूर्नामेंट अभी तक खत्म नहीं हुआ है। हम शानदार खेले और फाइनल जीते।”

पाकिस्तान पहली बार चैम्पियंस ट्रॉफी के फाइनल में पहुंचा था और विजेता बन कर स्वदेश लौटा।

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटरपर फॉलो करे! हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App

Source - एडिट प्लैटर