ताजमहल मकबरा है या शिवमंदिर?

ताजमहल मकबरा है या शिवमंदिर…? इस विषय पर अब एक बार फिर चर्चा छिड़ गई है। एक आरटीआई के जरिए केंद्रीय सूचना आयोग से यह पूछा गया है कि ताजमहल शाहजहां द्वारा बनवाया गया एक मकबरा है या शिव मंदिर है, जिसे एक राजपूत राजा ने मुगल बादशाह को तोहफे में दिया था…? अब सीआईसी ने इसपर संस्कृति मंत्रालय से स्थिति साफ करने को कहा है। सूचना आयुक्त श्रीधर आचार्यलु ने एक हालिया आदेश में कहा है कि मंत्रालय को संगमरमर से बने इस मकबरे को लेकर स्थिति साफ करना चाहिए।

दरअसल, बीकेएसआर अयंगर नाम के एक व्यक्ति ने आरटीआई कानून के तहत आयोग के पास एक अर्जी लगाई और पूछा कि आगरा में स्थित यह स्मारक ताजमहल है या तेजो महालय है। अब आयोग ने 30 अगस्त 2017 से पहले मंत्रालय से इस बारे में जवाब मांगा है। सूचना आयुक्त श्रीधर आचार्यलु ने कहा कि भारतीय पुरातत्व सर्वेक्षण ने उन्हें बतलाया है कि उसके पास इस बारे में कोई रिकॉर्ड नहीं है। जबकि उसके भारतीय पुरातत्व सर्वेक्षण (एएसआई) के कुछ मामलों में एक पक्षकार होने के नाते उसके पास अवश्य ही वे जवाबी हलफनामे होने चाहिए जो उसकी ओर से और संस्कृति मंत्रालय द्वारा दाखिल किए गए थे।

आपको बता दें कि ताजमहल को दुनिया के सात अजूबों में से एक माना जाता है। कहा जाता है कि  मुगल बादशाह शाहजहां (1628—1658) ने अपनी बेगम अर्जुमंद बानो बेगम (मुमताज महल) की याद में इसे बनवाया था.(मुमताज महल) की याद में इसे बनवाया था।

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटरपर फॉलो करे! हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App

Source - एडिट प्लैटर