20 से 30 की उम्र के कड़वे सबक!

EMJA8A couple with smartphones in park

20 से 30 की उम्र के कड़वे सबक!

20 से 30 की उम्र जिन्दगी के सबसे बेहतरीन दिनों में एक होते हैं इस दौरान इंसान अपनी ज़िन्दगी के सबसे ख़ूबसूरत दिन गुज़ारता है लेकिन कुछ लोग इन्हीं सालों में ज़िन्दगी के सबसे कड़वे सबकों से भी रूबरू होते हैं बीबीसी कैपिटल ने सवालों-जवाबों की साइट क्वोरा(Quora) पर कुछ ऐसे ही सवालों को तलाशने की कोशिश की।

इस दौरान कई लोगों से बातचीत की गई और बहुत से सवालों को पेश किया गया इन्हीं में से एक सवाल चीफ मॉर्केटिंग ऑफिसर मैक्स लुकोविंस्की से किया गया उनसे इंटरनेट पर होने वाली दोस्ती के बारे में पूछा गया और उनका जवाब था ‘यहां झूठी दोस्ती होती है’ वहीं एक शख्स से पूछे सवाल का जवाब था कि हमें अपनी कमजोरियों से सीख लेनी चाहिए, तो एक शख्स ने हिदायत दी की सफलता का कोई शॉटकट नहीं होता इसके लिए लगातार मेहनत ज़रूरी है।

इसके अलावा ज़ुबान का भी जीवन में बहुत ही अहम मुकाम बताया गया, वहीं स्टिफन पैप नामक शख्स के मुताबिक 20 से 30 साल की उम्र में अगर हमें अपनी सीमाओं के बारे में पता हो तो ये ना सिर्फ उस व़क्त बल्कि भविष्य में भी काम आता है, वहीं न्यूरोसाइंस में पीएचडी करने वाले एक छात्र निक जॉनसन के मुताबिक 20 से 30 साल के बीच में अगर हम ये सीख लें कि कौन और क्या हमारे लिए बेहतर है तो आगे की जिन्दगी आसान हो जाती है।

बीबीसी कैपिटल का पूरा लेख यहाँ पढ़ें।

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटरपर फॉलो करे! हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App

Source - बीबीसी कैपिटल

बड़ी खबरें

7 September 2016